मन्तसिर है…..

मन्तसिर है हम तेरे एक ज़माने से,
एक ज़माने तक हमें तेरा इंतज़ार रहे
सब्र कर लेंगें जो कभी हम बेसब्र हुए,
खुदा करे तेरे पास तेरा क़रार रहे…..


Leave a Reply