जिंदगी का ये कारवॉं ……

जिंदगी का ये कारवॉं कभी रूका नही
आगे ही ये बढ़ता रहा कभी थका नही
ये चलता रहा,ये कभी थमा नही ….

दिल मे उम्मीद के रोशन कर चिराग़
नये हौंसलों के जला कर मशाल
ये चलता रहा,ये कभी थमा नही ..,.

राह मे तो आयेंगें कई पड़ाव
कई मुश्किलें ,कई रुकावटें ,पर
ये चलता रहा,ये कभी थमा नही..,.

नई मंज़िलों की तलाश मे
नये आस्मां की खोज मे
ये चलता रहा,ये कभी थमा नही…

साथी कितने है,कौन हैं
चाहे रास्ते भी मौन है
ये चलता रहा,ये कभी थमा नही ….

रास्तों के अंधेरों को चीरता
दिखा करके ये अपनी वीरता
ये चलता रहा,ये कभी थमा नही…..

होने को है एक नयी सुबह
मन मे ये आस लिए,विश्वास लिए
ये चलता रहा ,ये थमा नही ..,,२


Leave a Reply