Category: Shayari

ऐ मेरे दिल….

ऐ मेरे दिल, ऐ मेरे दिलबर ऐ मेरे शरीकेहयात। तुम ही हो जान ,तुम ही जहान तुम ही हो कायनात मेरी …….

Read More →

उनको इल्म तक ना हो सका….

उनको इल्म तक ना हो सका, कि हम किस हद तक दीवाने हुए। जिन्हें हक़ीक़तों में ना हम बदल सके, वो सपने अब सब बेगाने हुए …..

Read More →

मयस्सर नही होती….

मयस्सर नही होती ख़ुशियाँ सभी मुकम्मल नही होती तमन्नाएँ कभी हाँ ….शायद यहीं है दस्तूरें ज़िंदगी …..

Read More →

“हासिल” …..

“हासिल” नही होती हर प्यार की मंज़िल पूजा है वो प्यार समर्पित हो जिसमें दिल ……

Read More →

दूर होकर भी….

दूर होकर भी तुम मेरे पास हो, मीठा सा तुम एहसास हो, मेरे दिल के लिए तुम ख़ास हो, आ जाओ ना तुम इक बार……

Read More →

कुछ अजब सा है….

कुछ अजब सा है जिंदगी का फ़लसफ़ा यारों घनघोर रात के बाद ही होता है सवेरा यारों ……

Read More →